Book A Pandit At Your Doorstep For Navratri Puja Book Now

शुभ तिलकोत्सव सामग्री | Tilak Utsav Pujan Samagri

99Pandit Ji
Last Updated:July 31, 2023

Book a pandit for Tilak Utsav in a single click

Verified Pandit For Puja At Your Doorstep

99Pandit

भारतीय शादी एक धार्मिक और सामाजिक उत्सव है, जो विवाहित जोड़े के जीवन को खुशियों और समृद्धि से भर देने का अवसर प्रदान करता है। भारतीय शादी में शुभ तिलकोत्सव, जो विवाह से पहले होता है, एक महत्वपूर्ण उत्सव है जो धार्मिकता, समरसता, और परंपराओं को साझा करता है। तिलकोत्सव सामग्री की बात की जायें तो यह तिलकोत्सव का महत्वपूर्ण अंग  होता है  |   

शुभ तिलकोत्सव का आयोजन कब किया जाता है 

भारतीय शादी में शुभ तिलकोत्सव विवाह से पहले होने वाला एक महत्वपूर्ण अनुष्ठान है। इसे विवाह के कुछ हफ्ते पहले या शादी समारोह के दौरान आयोजित किया जा सकता है। इस अवसर पर विवाहीत जोड़े के लिए परिवार के सदस्यों और दोस्तों को एकत्रित किया जाता है।

यदि आप इस धार्मिक उत्सव आयोजन करवा रहे है तो  तिलकोत्सव सामग्री का ज्ञान होना आपके लिए बहुत आवश्यक होता है |

सुभ तिलकोत्सव सामग्री

यहाँ हम आपकी जानकरी के अनुसार  तिलकोत्सव सामग्री का विवरण दे रहे है | जो आपके बहुत इस धार्मिक अनुष्ठान में आपके बहुत काम आएगी |   

तिलकोत्सव सामग्री 

श्री तिलकोत्सव के लिए आवश्यक सामग्री निम्नलिखित है :

सामग्री मात्रा
रोली1 पैकेट
कलावा (मौली)  1 पैकेट
सिंदूर1 पैकेट
लौंग1 पैकेट
इलायची1 पैकेट
सुपारीग्यारह नग
पीला कपड़ा चौकी के लिएसवा मीटर
चौकी भगवान हेतुएक सवा बाई लगभग
घी50 ग्राम
धूपबत्ती1 पैकेट
माचिस1 नग
रुई बत्ती5 नग
दियाळीदस नग
कलश सकोरा सहितएक सेट
चावल250 ग्राम
हल्दी पीसीएक पैकेट छोटा वाला
जनेऊपांच नग
फूल माला भगवान् के लिएपांच मीटर
फूल500 ग्राम
सादे पान पतेग्यारह नग
आरती की थालएक नग

इसके अतिरिक्त आम का पल्लव, दूर्वा, आदि की  व्यवस्था करे | 

विशेष :- इसके अलावा मीठे पान एवं फूलमाला लड़की पक्ष से आते है अत: उधर से न आने पर व्यवस्था स्वय किजिए | 

99pandit

100% FREE CALL TO DECIDE DATE(MUHURAT)

99pandit

यदि आप किसी गेस्ट हाउस में आयोजन कर रहे हो तो आचमन पात्र एवं थाली पूजन के समय आवश्यक पात्र घर से व्यवस्थता करे ले  |

तिलकोत्सव सामग्री  की यह जानकारी तिलकोत्सव  के आयोजन के लिए उपयुक्त है।

तिलकोत्सव की रस्म

तिलकोत्सव की रस्म में, तिलकोत्सव रस्म के दौरान वधु के पिता अपने सहयोगियों के साथ वर के घर में जाते है | और वधु के पिता  द्वारा वर को  तिलक लगाया जाता है |  यह तिलक विशेष रंगों और अलंकारों से सजा होता है। तिलक के विभिन्न रंग भी विभिन्न धर्मीक वैष्णव, शैव, और शाक्त सम्प्रदायों की पहचान के रूप में भी ज्ञात होते हैं। 

तिलकोत्सव रस्म का मतलब यह सुनिश्चित करना होता है की वधु पक्ष द्वारा वर को दामाद के रूप में स्वीकार कर लिया गया है | इसके पश्चात वधु पक्ष की और से वधु के भाई द्वारा स्वीकृति के रूप में वर को तिलक लगाया जाता है | साथ में वह कपडे, मिठाई, फूल , फल माला और जैसे सांकेतिक उपहारों वधु पक्ष को प्रदान करता है | 

अतः तिलकोत्सव सामग्री  व्यवस्था वधु पक्ष द्वारा पहले से ही सुनिश्चित कर लेनी उचित रहती है 

इसमें पंडित जी द्वारा हवन सम्पन्न करवाया जाता है | हवन में मंत्र उच्चारण पंडित जी द्वारा किया जाता है|   

99पंडित तिलकोत्सव रस्म को पूर्ण विधि – विधान के साथ सम्पन्न करवाने के लिए सर्वश्रेष्ठ मन जाता है क्यों की यहाँ मौजूद पंडित शास्त्रार्थ ज्ञान के साथ साथ आद्यात्मिक ज्ञान रखते है जो किसी समाज में होने वाली रस्म – रिवाज के लिए बहुत जरुरी होता है |   

धार्मिक दृष्टिकोन से, तिलक का आयोजन व्यक्ति को भगवान के आशीर्वाद का प्रतीक माना जाता है और यह विवाह के नए जीवन के लिए समर्पित करता है।

तिलकोत्सव सामग्री की जानकरी का पता आप 99पंडित पर मौजूद पंडितों की राय लेकर भी कर सकते है | 

तिलकोत्सव का महत्व

भारतीय शादी में शुभ तिलकोत्सव का आयोजन एक गहरे संस्कृतिक और धार्मिक महत्व रखता है। इस उत्सव के माध्यम से परिवार के सदस्य और दोस्त विवाहीत जोड़े को आशीर्वाद और शुभकामनाएं देते हैं। तिलक के माध्यम से, परिवार के सदस्य विवाहीत जोड़े के उद्दीपन का कारण बनते हैं और उन्हें विवाह के नए जीवन में समर्थन करते हैं।

99pandit

100% FREE CALL TO DECIDE DATE(MUHURAT)

99pandit

तिलकोत्सव सामग्री भी इस धर्मिक अनुष्ठान में बहुत महत्व रखती है | 

निष्कर्ष 

शुभ तिलकोत्सव भारतीय संस्कृति का एक ख़ास हिस्सा है, जो समृद्धि और समरसता का संदेश देता है और विवाह के नए जीवन को आनंददायक बनाता है।

आप तिलकोत्सव जैसे धर्मिक और सामाजिक पर्व  के लिए  99Pandit के माध्यम से अपना पंडित आसानी से बुक कर सकते है | 

इसके लिए आपको 99पंडित के “बुक ए पंडित” विक्लप का चयन करना पड़ेगा| “बुक ए पंडित”का चयन करने के बाद आपको आपकी समय जानकारी जैसे आपका नाम , मेल , आपका, पूजा का समय , पूजा की तिथि , एवं पूजा का स्थल , व पूजा का चयन कर आप अपना पुस्टीकरण करते हुये , अपना पंडित घर बैठे आसानी से बुक कर सकते है |

इसके अतिरिक्त आप 99पंडित के माध्यम से तिलकोत्सव सामग्री, अखंड रामायण सामग्री, रामकथा पूजन सामग्री की वयवस्था भी कर सकते हैं |    

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q.तिलक किन – किन चीजों से कर सकते है ?

A.हम तिलक सिंदूर के अलावा रोली, कुमकुम, चन्दन भस्म , से भी कर सकते है |

Q.माथे पर कौन सा तिलक लगाएं?

A.माथे पर लगाने के लिए सबसे शुभ चन्दन का तिलक माना जाता हैं | यह तिलक स्वास्थ्य में भी सुधार करता है |

Q.कौन सी उंगली से तिलक लगाना चाहिए?

A.ध्यान देने योग्य है की तिलक हमेशा उतर दिशा की और मुख करके लगाना चाहिए | और तिलक लगाने के लिए हाथ की सबसे लम्बी अंगुली यानि अनामिका का प्रयोग करना चाहिए | शास्त्रों के अनुसार कभी भी कनिष्ठा अर्थांत हाथ की सबसे छोटी अंगुली का इस्तेमाल कभी भी नहीं करना चाहिए  | तथा तिलक हमेशा दोनों भोहों के मध्यम ललाट पर  ही लगायें |  

Q.तिलक लगाने का मंत्र क्या है?

A.तिलक लगते समय निम्न मन्त्र का उच्चारण करना चाहिए –

केशवानन्न्त गोविन्द बाराह पुरुषोत्तम । पुण्यं यशस्यमायुष्यं तिलकं मे प्रसीदतु ।।

99Pandit

100% FREE CALL TO DECIDE DATE(MUHURAT)

99Pandit
Book A Astrologer