Book A Pandit At Your Doorstep For Marriage Puja Book Now

जो दिवाली पूजा के लिए सर्वश्रेष्ठ पंडित प्रदान करते है?

99Pandit Ji
Last Updated:October 21, 2022

Book a pandit for Any Pooja in a single click

Verified Pandit For Puja At Your Doorstep

99Pandit
Table Of Content

हिंदु पंचांग के अनुसार दिवाली का पर्व कार्तिक मास की अमावस्या को मनाया जाता है। हमारे हिंदु धर्म मे दिवाली का पर्व बहुत धूमधाम के साथ मनाया जाता है। खुशियो और रोशनी के धार्मिक पर्व दिवाली का हिंदु धर्म मे बहुत महत्व माना गया है। दीपो का उत्सव दिवाली 5 दिनो तक मनाया जाता है दिवाली का त्योहार धनतेरस से शुरू होता है और इसका समापन भाई दूज पर होता है। दिवाली के दिन हम मा लक्ष्मी जी और गणेश जी की पूजा करते है।

दिवाली के दिन सब लोग मा लक्ष्मी जी को प्रसन्न करने के लिए उनकी विधि पूर्वक पूजा अर्चना करते है। दिवाली के इस त्योहार को सभी समुदाय के लोग पटाखो और आतिशबाजी के साथ दिवाली के धार्मिक पर्व को बडे हर्षोउल्लास के साथ मनाते है। इस साल दिवाली 24 अक्टूबर 2022 सोमवार को है। दिवाली पर घरो को तरह-तरह की रंगोली और विभिन्न प्रकार की डिजायन वाली लाइटो से घरो को सजाते है। दिवाली के दिन घर के हर कोने को दीयो से सजाते है। बच्चे पटाखे और आतिशबाजी का लुप्त उठाते है।

दिवाली के दिन आप 99Pandit.com की वेबसाइट से आनलाइन पंडित बुक करके दिवाली की पूजा करवा सकते है। अब आपको दिवाली की पूजा के लिए पंडित के लिए परेशान होने की आवश्यकता नही है। हम आपको दिवाली पूजा के लिए 99Pandit.com की वेबसाइट से आनलाइन पंडित बुक करके आपको सर्वश्रेष्ठ पंडित प्रदान कर रहे है। आप 99Pandit.com के माध्यम से दिवाली पूजा या और किसी भी गतिविधि को करने के लिए पंडितो की तलाश कर रहे है। आजकल की दुनिया आनलाइन बुकिंग पर निर्भर है।

 99 पंडित दिवाली पूजा के लिए आनलाइन पंडित बुक करे?

दिवाली पूजा के लिए पंडित की आनलाइन बुकिंग सेवाए इतनी आसान और सरल है। लोगो को अब पंडित को आनलाइन बुक करने के लिए बिल्कुल भी परेशान होने की जरूरत नही है। 99Pandit.com दुनिया भर के लोगो की मदद करने मे अग्रणी है। पंडित आनलाइन बुकिंग की हमारी आनलाइन सेवा के माध्यम से आपकी सभी आवश्यकताओ को पूरा करेगा।

100% FREE CALL TO DECIDE DATE(MUHURAT)

हम दिवाली पूजा के लिए आपको आनलाइन पंडित बुक करने मे आपकी हर तरह से मदद करेंगे। जब आप 99Pandit.com की वेबसाइट पर आते है तो 99Pandit.com द्वारा प्रदान की जा रही सभी आनलाइन सेवाओ का आप लाभ उठा सकते है। यदि आप 99Pandit.com की वेबसाइट पर नये है तो लागिन बटन पर क्लिक करे और साइन-अप बटन पर क्लिक करे। आपको नए फार्म पर निर्देशित किया जाएगा जहां वह आपसे आपकी सभी जानकारी पूछेगा। आपकी सभी जानकारी बताने के बाद वे 99Pandit.com की टीम को आपके साथ संवाद करने मे मदद करेंगे।

 दिवाली पूजा विधि

आप 99Pandit.com की टीम के द्वारा पंडित आनलाइन बुक करके दिवाली की पूजा करवा सकते है।

  • पंडित बुक करने से आपके लिए दिवाली की पूजा करना काफी आसान हो जाएगा वो अच्छे से आपकी दिवाली पूजा सम्पन्न करवा देंगे।
  •   दिवाली पूजन के समय जिस स्थान पर पूजा करेंगे उस स्थान को गंगाजल छिडककर साफ कर लेना चाहिए।
  •  इसके बाद चैकी पर लाल कपडा बिछाकर उस पर माता लक्ष्मी जी और गणेश जी की मूर्ति या तस्वीर स्थापित करेंगे।
  •  पूजा करते समय मूर्ति का मुख सदैव पूर्व या पश्चिम दिशा की और होना चाहिए।
  •  दिवाली पूजा के लिए निम्न पूजन सामग्री की जरूरत पडेगी जैसे – रोली,मोली,सिंदुर,कुम-कुम,कपूर,धूप,अगरबत्ती,बडा दीपक,घी,तेल,रूई,सुपारी,लौंग,चैकी,चैकी पर बिछाने के लिए लाल कपडा,माला,पूजा के फूल,लक्ष्मी जी और गणेश जी का पाना,शहद,गंगाजल,दूध,दही,पानी से भरा कलश,मिठाईया,खील,बताशे,चांदी का सिक्का,पूजा की थाली,गन्ने की जोडी,इलायची,चावल, लाल कपडा,सफेद कपडा,पूजा मे बैठने के लिए आसन,कमल का फूल आदि चीजे दिवाली की पूजा के लिए चाहिए।
  •  जब पंडित जी दिवाली की पूजा कर रहे हो तब परिवार के सभी सदस्य माता लक्ष्मी जी और गणेश जी की मूर्ति को हाथ जोडकर बैठ जाये। ऽ सबसे पहले पंडित जी माता लक्ष्मी जी और गणेश जी की मूर्ति या तस्वीर को तिलक करेंगे उसके बाद कलश को तिलक करके मोली बाधेंगे।
  •  तिलक करने के बाद मा लक्ष्मी जी और गणेश जी की मूर्ति के सामने एक बडे दीपक मे घी और तेल लेेकर दीपक जलायेंगे मा लक्ष्मी जी और गणेश जी की मूर्ति के सामने ये दीपक पूरी रात जलता रहना चाहिए।
  •  मा लक्ष्मी जी और गणेश जी को मिठाई,खील,बताशे का भोग लगायेंगे।
  •  भोग लगाने के बाद मा लक्ष्मी जी की आरती करेंगे।
  •  आरती करने के बाद सब लोगो मे मिठाई,खील,बताशे का प्रसाद बांट देंगे।
  •  मा लक्ष्मी जी की आरती करते समय सब लोग अपने भविष्य की मंगल कामना करते है उनके जीवन मे सुख-समृध्दि,शांति और धन की कभी कमी ना रहे हमेशा जीवन मे तरक्की करते रहे।

पंडित जी के द्वारा दिवाली की पूजा अच्छे से सम्पन्न करवाने के बाद पंडित जी को दान दक्षिणा कपडे,मिठाईया,फल आादि देकर विदा करेंगे।

99Pandit

100% FREE CALL TO DECIDE DATE(MUHURAT)

99Pandit
Book A Pandit
Book A Astrologer