Book A Pandit At Your Doorstep For 99Pandit PujaSatyanarayan Puja Book Now

Yamuna Ji Aarti Lyrics: माता यमुना जी की आरती हिंदी में

99Pandit Ji
Last Updated:April 10, 2024

Book a pandit for Any Puja in a single click

Verified Pandit For Puja At Your Doorstep

99Pandit

यमुना जी की आरती (Yamuna Ji Aarti) का जाप माता यमुना को प्रसन्न करने तथा माता यमुना का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए किया जाता है| इस यमुना जी की आरती (Yamuna Ji Aarti) का जाप करने से भक्तों के सभी कष्ट दूर होते है| आमतौर पर यमुना जी की आरती (Yamuna Ji Aarti) का जाप किसी भी दिन किया जा सकता है किन्तु भाई दूज के शुभ अवसर पर यमुना जी की आरती (Yamuna Ji Aarti) करने जातक को बहुत लाभ होता है|

यमुना जी की आरती

इस आरती को केवल सुनने मात्र से ही भगवान श्री कृष्ण का आशीर्वाद प्राप्त होता है| जो भी व्यक्ति इस आरती (Yamuna Ji Aarti) का जाप करता है, उस व्यक्ति को यम का भय नहीं रहता है| तो आइये जानते है यमुना जी की आरती (Yamuna Ji Aarti) के लिरिक्स के बारे में|

इसी के साथ यदि आप किसी भी आरती या चालीसा जैसे खाटूश्याम जी की आरती [Khatu Shyam Ji Ki Aarti], हनुमान चालीसा [Hanuman Chalisa], या कनकधारा स्तोत्र [Kanakdhara Stotra] आदि भिन्न-भिन्न प्रकार की आरतियाँ, चालीसा व व्रत कथा पढना चाहते है तो आप हमारी वेबसाइट 99Pandit पर विजिट कर सकते है|

इसके अलावा आप हमारे एप 99Pandit For Users पर भी आरतियाँ व अन्य कथाओं को पढ़ सकते है| इस एप में सम्पूर्ण भगवद गीता के सभी अध्यायों को हिंदी अर्थ समझाया गया है|

माता यमुना जी की आरती हिंदी में | Yamuna Ji Aarti Lyrics in Hindi

|| यमुना जी की आरती ||

ॐ जय यमुना माता, हरि जय यमुना माता ।
जो नहावे फल पावे सुख दुःख की दाता ।।
ॐ जय यमुना माता

पावन श्रीयमुना जल अगम बहै धारा ।
जो जन शरण में आया कर दिया निस्तारा ।।
ॐ जय यमुना माता

जो जन प्रातः ही उठकर नित्य स्नान करे ।
यम के त्रास न पावे जो नित्य ध्यान करे ।।
ॐ जय यमुना माता

कलिकाल में महिमा तुम्हारी अटल रही ।
तुम्हारा बड़ा महातम चारो वेद कही ।।
ॐ जय यमुना माता

आन तुम्हारे माता प्रभु अवतार लियो ।
नित्य निर्मल जल पीकर कंस को मार दियो ।।
ॐ जय यमुना माता

नमो मात भय हरणी शुभ मंगल करणी ।
मन बेचैन भया हैं तुम बिन वैतरणी ।।
ॐ जय यमुना माता

यमुना जी की आरती

Maa Yamuna Ji Aarti Lyrics in English | ॐ जय यमुना माता

|| Yamuna Ji Aarti ||

Om Jai Yamuna Mata, Hari Jai Yamuna Mata
Jo nahaave phal paave sukh dukh ki daata
Om Jai Yamuna Mata

Paavan Shri Yamuna jal agam bahai dhaara,
Jo jan sharan mein aaya kar diya nistaara
Om Jai Yamuna Mata

Jo jan praatah hi uthkar nitya snaan kare,
Yam ke traas na paave jo nitya dhyaan kare
Om Jai Yamuna Mata

Kaliyug mein mahima tumhaari atal rahi,
Tumhaara bada mahaatam charo ved kahi
Om Jai Yamuna Mata

Aan tumhaare maata, Prabhu avataar liyo,
Nitya nirmal jal peekar kans ko maar diyo
Om Jai Yamuna Mata

Namo maat bhay harani, shubh mangal karani,
Man bechain bhaya hain tum bin vaitarani
Om Jai Yamuna Mata

99Pandit

100% FREE CALL TO DECIDE DATE(MUHURAT)

99Pandit
Book A Astrologer